Pages

Thursday, July 23, 2009

"मै एक छोटी सी लड़की हूँ"


मै एक छोटी सी लड़की हूँ
सुबह की पहली किरण सी उजली हूँ
छा जाउंगी नभ पर,यही ख्वाब बुनती मै पली हूँ
मै एक छोटी सी लड़की हूँ

यूं तो अकेले ही अपनी मंजिल की और बढ़ी हूँ
पर कुछ सपने और जोड़ लिए हैं खुद से
और सबको साथ लेके चल पड़ी हूँ
मै एक छोटी सी लड़की हूँ

निश्चय बहुत ही द्रिड़ है मेरा, तूफानों में ढली हूँ
पसंद है मुझे लड़ना और जीत जाना,
पर दिल की बहुत भली हूँ
जानती हूँ मुझ जितने भले नहीं लोग,
जरा सी इसी बात से डरी हूँ
मैं एक छोटी सी लड़की हूँ

नाजुक हूँ स्वर्ण सी, आग में तप कर ही निखरी हूँ
जीत लूंगी सारा गगन इसी संकल्प के साथ मैदान में उतरी हूँ
मैं एक छोटी सी लड़की हूँ

आँखों में सपने जरुर है, पर हकीक़त के धरातल पे मै चली हूँ
अटल है मेरे इरादे बलबूते जिनके मै इस राह निकली हूँ
मैं एक छोटी सी लड़की हूँ

भर दूंगी जीवन हवाओं मे, प्रेम की स्वरलहरी हूँ
सरल हूँ प्रकृति मे जितनी, मन की बहुत गहरी हूँ
मंजिल बहुत दूर है अभी, मैं कब कही ठहरी हूँ
मै एक छोटी सी लड़की हूँ

परिचित हूँ अपनी शक्ति से, हौसलों से भरी हूँ

न केवल अपने लिए बल्कि सबके हक के लिए खड़ी हूँ
मै एक छोटी सी लड़की हूँ

उम्मीदे लगी है, मुझसे मेरे अपनों की,
उत्साह पाकर जिनसे मै डटी हूँ
अब हटूंगी नहीं पीछे,
दिखा दूंगी, मैं बड़ी हठी हूँ
मै एक छोटी सी लड़की हूँ

पर्वत सा विशाल पापा का विश्वास है,
मै उनके सपनो की रौशनी हूँ
कितनी काबिल हूँ दिखला दूंगी,
माँ के चमन में जो खिली हूँ
मै एक छोटी सी लड़की हूँ

हाँ, मै एक छोटी सी लड़की हूँ,
पर डैने फैलाये अपने, उडान को तैयार खड़ी हूँ
समेट लूँगी आसमान मुट्ठी में,
हाँ मैं आसमान से बड़ी हूँ
मै एक छोटी सी लड़की हूँ

save the girl child !

ज़रूर बताईये अपनी प्रतिक्रिया आपकी अपनी नन्ही लेखिका रश्मि की इस कविता पर...

52 comments:

  1. Ohhhhhhh.............
    Kitni choti se ladki hai......
    n this grl will change the world......yahi choti si ladki...

    AWESOME......
    Mind blowing...

    n really RASHMI is an ANGEl.....

    ReplyDelete
  2. बेहतरीन! शानदार! तुम्हारे सारे इरादे पूरे हों। तमाम लोगों के लिये आदर्श बनो!

    ReplyDelete
  3. her thoughts r really beautifullllllllll......

    Superb...

    ReplyDelete
  4. WOO MAN THATS FANTASTIC...............TOTALLY BLEW MY MIND...........I DONT KNOW WAT DO I SAY THIS IS GOD GIFTED GAL.............KEEP IT UP..........IN UR LIFE..........

    ReplyDelete
  5. hallo dear best of luck for future & bahut khusi hui ye dekh kar jo tum abhi kar rahi ho good keep it up.........

    ReplyDelete
  6. is nanhi si pari ke liye yahi dua hai ki ye us uchai ko chhuye jis uchai tak kisi ne bhi na socha ho

    ReplyDelete
  7. whoa..!! it felt very great to read this lovely n cute poem..

    i wish u loads of luck in the near future n may God bless ya..keep writin such poems..never lose ur talent for anyone.. :)

    m feelin proud to say that u r my frnd dear..love ya

    - sri

    ReplyDelete
  8. छोटी सी चाहे हो
    पर इरादे आसमान हैं
    विचारों का तूफान है
    भीतर सच्‍चा मन है

    ReplyDelete
  9. है जो छोटा वही बड़ा.
    पैरों पर निज हुआ खडा.
    सीना तान, उठाये सर.
    ठोकर मत खा, कभी न गिर.
    कदम-कदम चुप चलता चल.
    खुद को खुद ही कभी न छल.
    पैर तले होगी मंजिल.
    'सलिल' संग पंकज सा खिल.

    -'सलिल'

    दिव्यनर्मदा.ब्लागस्पाट.कॉम

    ReplyDelete
  10. बहुत बढ़िया ...नन्ही लेखिका ...!!

    ReplyDelete
  11. Bahut khoobsurat aur bhavbhin, lagti saral hai par bahut takat hai , umeed hai in shabdon mein. Dil ko choo gayee hai

    ReplyDelete
  12. beautiful song -good wishes ! lONG LIVE !

    ReplyDelete
  13. जीती रहो रश्मि. तुम्हारा भविष्य उज्ज्वल है. मेरी शुभकामनायें तुम्हारे साथ हैं

    ReplyDelete
  14. Nanhi lakhika par hai sabki aas,
    rang layega ek din tera vishwas

    ReplyDelete
  15. वाह मेरी शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  16. बहुत सुन्दर गहरे भाव से ओत्प्रोत अद्वितीय रचना अद्वितीय उपलब्धि को अर्जित करने वाली नन्ही कवियत्री को धेरो शुभ कामनायें

    ReplyDelete
  17. bhut khub meri subh kaamnaye aap ke saath hai
    saadar
    praveen pathik
    9971969084

    ReplyDelete
  18. बहुत सुन्दर... हे नन्ही लेखिका हमारा सत-सत नमन तुम्हे..और ढेरोँ बधाइयाँ..

    ReplyDelete
  19. Bitiya! bahut saaree badhaayee sweekar karo...! Hamesha raushan raho..!

    http://shamasansmaran.blogspot.com

    http://aajtakyahantak-thelightbyalonelypath

    http://kavitasbyshama.blogspot.com

    http://shama-kahanee.blogspot.com

    http://fiberart-thelightbyalonelypath.blogspot.com

    http://shama-baagwaanee.blogspot.com

    ReplyDelete
  20. बहुत खूब ...
    खूब आगे बढ़ो यही शुभकामना है ....

    ReplyDelete
  21. हाँ, मै एक छोटी सी लड़की हूँ,
    पर डैने फैलाये अपने, उडान को तैयार खड़ी हूँ
    समेट लूँगी आसमान मुट्ठी में,
    हाँ मैं आसमान से बड़ी हूँ
    मै एक छोटी सी लड़की हूँ.......इस छोटी लडकी की उड़ान को मेरी शुभकामनायें,
    हिन्दयुग्म कवि सम्मलेन के लिए अपनी यह प्यारी रचना रिकॉर्ड करके २० अगस्त तक
    भेज दो,rasprabha@gmail.com पर

    ReplyDelete
  22. वाह रश्मि , बहुत खूब। अगली कविता का इन्तजार रहेगा।
    इरादे बुलन्द हों और पैर धरती पर हों तो मंजिल दूर कैसे रह सकता है!
    समस्त शुभकामनाओं के साथ,
    शैल अग्रवाल (WWW.lekhni.net)

    ReplyDelete
  23. रश्मिजी
    आपके सारे इरादे पूरे हों यही कामना करता हूं। आप खूब पढ़ें खूब लिखें..

    ReplyDelete
  24. पापा के विश्वास पे खरी उतरेगी।
    ये छोटी सी लड्की एक् दिन सबके कान कुतरेगी।
    इसका ये हौसला सदा उप्पर उठता चला जाये।
    छा जाये ये नभ पे और नभ छोटा पड़ जाये।

    ReplyDelete
  25. Bahut achchha laga aapka hamaare blog par aana aur aapki rachna padhana. Aapko is kam umr men mili safalta ke liye badhaai.
    Par ham aur kuchh jyaada jaanna chaahte hain aapke baare men. Agar ho to apne baare men vistaar se likhen uvavani4u@gmail.com par. Hamen intajaar rahega

    ReplyDelete
  26. वाह वाह वाह
    कवि हो या कविता
    कोई छोटा बड़ा नहीं होता
    मेरा आशिर्वाद है
    पढ़ो और बढ़ो
    लिंक पर क्लिक करना
    तो चौखट मिलेगी
    http://chokhat.blogspot.com/

    ReplyDelete
  27. Hi dear Rashmi!

    I am so glad to hear the news of your extra-ordinary success. I hope you will keep on going with all the activities of life those you are excelling now and enjoying too.

    As I said you earlier, it would be my pleasure to watch your progress from 5 or 10 years from now, if I can live that age..

    You will make your parents and brother proud, along with people in your area and district as well as country - India.

    Best wishes from your dear friend - slsmhu

    daddy...lol.

    ReplyDelete
  28. Wow dear I'm just speechless.......you write so well and true. Your Poem describes your nature and behaviour and how much you are dedicated towards your goals.

    I wish you get everything in your life whatever you want.

    Your parents are very lucky to have you as a daugher.

    My good wishes are always with you. Keep writing like this.

    Always Keep Smiling

    Regards
    Seema

    ReplyDelete
  29. बाल मन की कोमल भावनाओ का स्वागत इस ब्लॉग की दुनिया में ...
    बहुत बहुत धन्यवाद , कवितायेँ जारी रखें

    ReplyDelete
  30. आयेगा एक नवकल तुम्हारा,जब गुणगान गायेगा सारा ज़माना |
    चलते चलो तुम ना रुकना अब तुम, शुभ वर्त्तमान आएगा फिर तुम्हारा |

    शुभ वर्तमान।
    नवीन तिवारी

    ReplyDelete
  31. Nice one.. good

    -lost (Nyuk)

    ReplyDelete
  32. शाबाश रश्मि ! तुम्हारी प्रतिभा को नमन ! इसी तरह अच्छा पढ़ती रहो, अच्छा लिखती रहो। खूब सफलता पाओ, यही प्रार्थना करता हूँ।

    सुभाष नीरव
    www.setusahitya.blogspot.com
    www.gavaksh.blogspot.com
    www.srijanyatra.blogspot.com
    www.sahityasrijan.blogspot.com

    ReplyDelete
  33. bahut badhiya...likhti raho..

    ReplyDelete
  34. नन्ही लेखिका रश्मि,तुम्हारी कविता सुन्दर है.तुम्हारा हौसला और भी सुन्दर है.आसमान को मुट्ठी में बांध लेने का हौसला.मेरी हार्दिक शुभ कामनाएं

    ReplyDelete
  35. wow !!!!!!!!! awesome poem.... u rock Rashmi...
    .

    we want more we want more we want more we want more we want more we want more

    .
    .
    .
    :)

    ReplyDelete
  36. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  37. HEY RASHMI YOU ARE A PRICELESS POETESS......
    KEEP IT UP

    ReplyDelete
  38. tum na pg kar ri ho aur abhi tak chhoti ho

    jhoot bolte huye sharm ni aandi tenu


    :-)

    sorry
    don't mind
    take care and carry on

    ReplyDelete
  39. mai na PG kar chuki hoon aur Phd kar rahi hoon...

    ab bhala kisi kitaab me likha hai ki PG karne waale "mai ek chhoti si ladki hoon" Type ki kavita bhi nahi kar sakte !

    offcourse I never mind... but really eager to know who is this giving me good wishes in this humourus way... after all pata to hona chahiye na... plz let me know...

    thanx.

    ReplyDelete
  40. जब छोटे से बच्‍चे
    बड़ी कविता लिख सकते हैं
    जिससे कट जाते हैं कान
    तो बड़े बच्‍चे अगर लिख दें
    छोटी सी कविता
    जिससे बनती है सच्‍ची पहचान
    तो सबसे पहले होते हैं बेनामी परेशान
    पर वे अपनी परेशानी से नहीं होते परेशान
    और शान से उसे पिरो देते हैं
    पर अपना नाम न जाने क्‍यों नहीं देते हैं
    पर स्‍वरूप रश्मि यानी किरणें
    करती है जैसे चकाचौंध
    और जब चौंध पड़ती है आंखों पर
    तो कुछ देर तक दिखाई नहीं देता है
    और सूझता नहीं है दिमाग से भी
    बेनामी को यही परेशानी लगती है आई
    पर आप तो भुला दो
    इसे दिल पर न लो
    जय हो
    सभी मन के सच्‍चे बच्‍चों की

    सदा जय हो।

    ReplyDelete
  41. TOO GOOD RASHMI.........
    GOOD LOOKS CATCH D EYES, BUT GOOD CHARACTER CATCHES THE HEART.
    U r blessed wid d both.
    all the best 4 ur life..
    we r very greatful to be ur friend........
    ayushi N akansha.....................

    ReplyDelete
  42. आप पढ़ाई पूरी करने बाद क्या करना चाहती है। हमें लगता है कि आप एक अच्छे नौकर बनने का सपना देख रहीं है। आप का लक्ष्य अनिश्चित हैं। कम उम्र में परीक्षाएं पास करना कोई आश्चर्य की बात नहीं विशेषकर मुझे। यदि आप ने अपना लक्ष्य निर्धारित नही किया तो आप मात्र एक नौकर बनकर रह जाएगी। आपको यह भी नही मालूम होगा कि आपको जल्दी सबकुछ कैसे याद हो जाता है इस लिए आप से कोई कम उम्र में परीक्षाएं पास करना भी नहीं सीख सकता और न ही आप पढ़ने में मदद ही कर सकती हैं। परीक्षा पास करनी है तो आई ए एस करें।

    ReplyDelete
  43. @ Memory Guru of India
    Respected sir,
    First of all thanx. mere lakshya anishchit nahin hain... mai bhali bhanti janti hoon, mujhe kya karna hai aur maine kya kiya hai.. ab jaruri to nahi apne sare plans reveal kiye jaye... waise kehne me nahi karne me vishwas rakhti hoon... aur ummid karti hoon, apne lakshyo ko sach karte hue aap bhi mujhe dekh payenge... IAS to mai waise bhi dene hi waali thi.. wo mere dad ka sapna hai.. bas 21 ki ho jaun... par wo bhi akhiri seema nahi hai meri... !
    thanx and take care..

    ReplyDelete
  44. goad help you litle writer

    ReplyDelete
  45. Very nice poem.All the best for your future.Keep doing the good work.

    ReplyDelete
  46. hello mem ur 2 good writer...and i just lyk ur poem.
    i am prem patel from gujarat....and i recently complited my graduation in Bsc with mager subject chemistry....and naw i am MBA studnt......and at the first day of my collage lecture my faculty ask me why u choose MBA after ur graduation in science????and i give same answer them whatever u given...but my faculty say that my answer is odd....then plz give me better answer..plz email me ur answer on my id....psp16may@gmail.com
    mem plzzzz

    ReplyDelete

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...